Top Ad 728x90

मंगलवार, 12 मई 2020

नर्सों,स्वास्थ्यकर्मियों के बिना महामारी से लड़ाई संभव नहीं: हर्षवर्धन


नई दिल्ली। केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने कहा है कि नर्स, दाइयां और अन्य चिकित्सा कर्मियों का स्वार्थहीन सेवा, योगदान तथा मेहनत हमेशा से सराहनीय रहे हैं और ये सभी देश के चिकित्सा ढांचे की धुरी हैं। डॉ हर्षवर्धन ने अंतराष्ट्रीय नर्स दिवस के मौके पर आज देश भर के नर्सिंग कार्यक्रमों की वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए अध्यक्षता करते हुए कहा कि यह दिवस फ्लोरेंस नाइटेन्गेल का 200 वां जन्म दिवस भी है और यह इस लिहाज से भी काफी महत्वपूर्ण है कि अंतरराष्ट्रीय विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इस वर्ष को "अंतरराष्टीय नर्स और दाई दिवस" घोषित किया है।
डॉ हर्षवर्धन ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए लाखों नर्सों को संबोधित करते हुए कहा," आपके काम और स्वास्थ्य आपूर्ति प्रणाली में आपके ईमानदार योगदान की गहराई को परिभाषित नहीं किया जा सकता है और यही आपकी प्रतिबद्धता है। आपकी दयालुता, समर्पण और मानवीय भावनाओं के लिए आपको धन्यवाद। आपने हमेशा मरीजों के हितों को पहले माना है। इस महामारी के दौरान भी आप लोग लगातार काम कर रही हैं और नर्सों तथा अन्य स्वास्थ्यकर्मियों के बिना हम इस तरह की महामारियों के खिलाफ लड़ाई नहीं जीत पाएंगे और न ही हम सार्वजनिक स्वास्थ्य कवरेज और सतत विकास के उद्देश्यों को हासिल कर पाएंगे।

0 टिप्पणियाँ:

टिप्पणी पोस्ट करें

Top Ad 728x90