सोमवार, 25 मई 2020

कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर केन्द्र सरकार गंभीर


नई दिल्ली। केन्द्र सरकार देश में कोरोना वायरस 'कोविड-19 के बढ़ते मामलों को लेकर गंभीर है और इसकी रोकथाम, नियंत्रण और प्रबंधन को लेकर सभी राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेश से मिलकर कई कदम उठा रही है और इनकी उच्च स्तर पर समीक्षा की जा रही है। देश में अभी तक कोरोना वायरस संक्रमण के सक्रिय मामले 77,103 हैं, जो चिकित्सकीय निगरानी में हैं और अब तक 57,720 मरीज ठीक हो चुके हैं। पिछले 24 घंटों में कोरोना के 3280 मरीज ठीक हो गये हैं, जिन्हें मिलाकर रिकवरी दर 41.57 प्रतिशत हो गई हैं। इसी प्रकार, मृत्यु दर 2.9 फीसदी है। भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) देश में अब तक कुल 30,33591 नमूनों की जांच कर चुका है और पिछले 24 घंटों में 90170 कोरोना नमूनों की जांच की गई है।
देश अब घरेलू विनिर्माण के माध्यम से पर्याप्त संख्या में एन-95 मास्क और पीपीई बना रहा है और राज्यों/ केंद्र शासित प्रदेशों के साथ-साथ केंद्रीय संस्थानों को लगभग 109.08 लाख एन-95 मास्क और लगभग 72.8 लाख व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण (पीपीई) उपलब्ध कराए गए हैं। इस समय देश में 422 सरकारी प्रयोगशालाओं और 177 निजी प्रयोगशालाओं कोरोना परीक्षण के काम में जुटी हैं। देश भर में "कोविड-19 प्रबंधन के लिए पर्याप्त हेल्थकेयर अवसंरचनाएं और सुविधाएं स्थापित की गई हैं। इन्हें तीन श्रेणियों में विभाजित किया गया है यानी समर्पित कोविड अस्पताल (डीसीएच), समर्पित कोविड स्वास्थ्य केंद्र (डीसीएचसी) और पर्याप्त संख्या में आइसोलेशन बेड, आईसीयू बेड और अन्य सुविधाओं के साथ कोविड स्वास्थ्य केंद्र (सीसीसी)। इसके तहत कुल 968 समर्पित कोविड अस्पतालों में 2,50,397 बेड (1,62,237 आइसोलेशन बेड, 20,468 आईसीयू बेड) के साथ 2,065 समर्पित कोविड स्वास्थ्य केंद्र 1,76,946 बेड (1,20,596 आइसोलेशन बेड, 10,691 आईसीयू बेड) और 7,063 कोविड स्वास्थ्य केंद्रों की 6,46,438 बेड के साथ पहचान की गई है।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Top Ad 728x90