बुधवार, 22 अप्रैल 2020

आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा घर-घर जाकर रेडी-टू-ईट और सूखा राशन वितरित


हितग्राहियों को कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव की भी दी जा रही समझाईश

रायपुर। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के निर्देशानुसार राज्य में कोरोना वायरस की रोकथाम और नियंत्रण के तहत फिजिकल डिस्टेंसिंग बनाए रखने के लिए महिला एवं बाल विकास द्वारा आंगनबाड़ी केन्द्रों में दर्ज हितग्राहियों को उनके घर पर ही पहुंचकर आंगनबाड़ी कार्यकर्ता रेडी-टू-ईट और सूखा राशन वितरित कर रहे हैं। बेमेतरा जिले में लॉकडाउन के दौरान महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा महिलाओं एवं बच्चों के स्वास्थ मे सुधार लाने की दिशा मे विशेष प्रयास किए जा रहे है। बेमेतरा जिले में संचालित 1079 आंगनबाड़ी केन्द्रों के हितग्राहियों को घर-घर जाकर आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा रेडी टू ईट का वितरण (टी.एच.आर.) किया जा रहा है। 6 माह से 3 वर्ष तक के 38833 हितग्राही एवं 3 से 6 वर्ष के 32224 हितग्राही, गर्भवती माता 7138 शिशुवती माता 7890 और किशोरी बालिका 202 कुल 86287 हितग्राहियों को रेडी टू ईट के द्वारा लाभांवित किया गया है। इसके साथ ही आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा घर में रेडी टू ईट देने के साथ ही गृह भेंट के माध्यम से कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम एवं फैलाव से बचाव हेतु समझाईश भी दी जा रही है, जैसे घर पर ही रहना, भीड़ वाले स्थान पर ना जाना, मास्क का उपयोग करना, यथा समय साबुन से बार-बार हाथ धोना एवं यदि कोरोना वायरस के लक्षण मिले तो सीधे चिकित्सक से परामर्श लेना साथ ही स्वच्छता व साफ सफाई पर विशेष ध्यान देने की सलाह दी जा रही है।
जिले के कलेक्टर श्री शिव अनंत तायल के नेतृत्व एवं जिला पंचायत मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती रीता यादव के मार्गदर्शन मे मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान के तहत् प्रतिकात्मक रूप से 75 आंगनबाड़ी केन्द्रो के लगभग 1255 हितग्राहियों को 6 माह से 3 वर्ष के मध्यम गंभीर कुपोषित बच्चें व एनिमिक शिशुवती माताओं को सुखा पोषण आहार (चावल, दाल, आलू, चना) प्रदाय किया जाकर लाभांवित किया गया।

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें

Top Ad 728x90