सोमवार, 27 अप्रैल 2020

यमन ऐसी कोई कार्रवाई न करे, जिससे तनाव बढ़े: सऊदी गठबंधन


रियाद। यमन में हाउती विद्रोहियों के खिलाफ संघर्षरत सऊदी अरब के नेतृत्व वाले अंतरराष्ट्रीय बल ने सोमवार को कहा कि कि यमन ऐसी कोई भी कार्रवाई न करे, जिससे तनाव बढ़े। गठबंधन बल ने हाउती विद्रोहियों से 2019 में हुए रियाद शांति समझौते के प्रावधानों का पालन करने की अपील की है।
सऊदी प्रेस एजेंसी के अनुसार गठबंधन बल ने कहा, "गठबंधन ने रियाद समझौते के विपरीत किसी भी कदम को तत्काल खत्म करने का आग्रह किया है। गठबंधन अंतरराष्ट्रीय समुदाय संयुक्त राष्ट्र द्वारा समझौते के लिए व्यापक समर्थन का हवाला देते हुए तेजी से इसके कार्यान्वयन की दिशा में काम कर रहा है। गठबंधन ने यमीनी रैंकों को एकजुट करने, संस्थानों को बहाल करने और आतंकवाद के संकट से निपटने के लिए सभी पक्षों के बीच हुई रियाद समझौते को लागू करने के लिए व्यावहारिक और व्यवस्थित कदम उठाना जारी रखा है। गठबंध ने यमन के निवासियों की हितों को ध्यान में रहने की आवश्यता पर जोर दिया है। इससे पहले यमन के दक्षिणी संक्रमणकालीन परिषद (एसटीसी) ने रविवार को आपातकाल की घोषणा की थी और सशस्त्र बलों ने इसे लागू करवाने की जिम्मेदारी थी। उल्लेखनीय है कि एसटीसी का गठन विद्रोहियों के समर्थ ने 2017 में किया गया था और इसने यमन के दक्षिणी प्रांतों में खुद की सरकार की घोषणा की थी। परिषद ने सरकार पर देश के खिलाफ साजिश रचने, भ्रष्टाचार में लिप्त होने और कई महीनों तक सैनिकों और नागरिकों को वेतन देने में विफल रहने का आरोप लगाया। अबयान, शबवाह, हदरामाउट, अल महराह तथा सोकोट्रा जैसे प्रांत ने परिषद के फैसले का समर्थन करने से इनकार कर दिया।
----------

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें

Top Ad 728x90