बुधवार, 4 मार्च 2020

भारी उतार-चढ़ाव के बाद स्थिर बंद हुआ रुपया


मुंबई। मजबूत डॉलर और विदेशी निवेशकों की बिकवाली के दबाव के बीच अंतरबैंकिंग मुद्रा बाजार में रुपये में बुधवार को भारी उतार-चढ़ाव देखा गया और अंतत: वह गत दिवस के 73.19 रुपये प्रति डॉलर पर स्थिर रहा। भारतीय मुद्रा तीन दिन में 158 पैंसे (दो प्रतिशत से अधिक) टूट चुकी है। गत दिवस यह 43 पैसे लुढ़ककर 73.19 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुई थी जो आठ महीने का निचला स्तर है। शेयर बाजार की शुरुआती तेजी के दम पर रुपया नौ पैसे की बढ़त में 73.10 रुपये प्रति डॉलर पर खुला और 72.91 रुपये प्रति डॉलर तक पहुँच गया। दुनिया की अन्य प्रमुख मुद्राओं के बास्केट में डॉलर का सूचकांक आज 0.3 फीसदी से ज्यादा मजबूत हुआ। अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत में करीब दो प्रतिशत की तेजी और विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों के भारतीय पूँजी बाजार से 52.44 करोड़ डॉलर निकालने से रुपया दबाव में रहा और एक समय 73.64 रुपये प्रति डॉलर तक लुढ़क गया। हालाँकि बैंकों में माध्यम से रिजर्व बैंक के डॉलर खरीदने से एक बार फिर इसने वापसी की और 73.19 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ।

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें

Top Ad 728x90