शुक्रवार, 13 मार्च 2020

मुख्यमंत्री ने डोंगरगढ़ में आधुनिक रोप-वे का किया लोकार्पण

मां बम्लेश्वरी की पूजा-अर्चना कर प्रदेशवासियों की सुख-समृद्धि की कामना की

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज रंगपंचमी के पावन अवसर पर राजनांदगांव जिले के डोंगरगढ़ स्थित मां बम्लेश्वरी मंदिर के छिरपानी प्रांगण में नवनिर्मित मां बम्लेश्वरी उडऩ खटोला (रोप-वे) का लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री अतिथियों के साथ रोप-वे से पहाड़ी पर स्थित मां बम्लेश्वरी मंदिर पहुंचे। वहां उन्होंने पूजा-अर्चना कर प्रदेश की प्रगति, समृद्धि और खुशहाली का आशीर्वाद मांगा। कार्यक्रम की अध्यक्षता वन मंत्री मोहम्मद अकबर ने की। कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू, विधायक डोंगरगढ़ भूनेश्वर शोभाराम, विधायक श्रीमती संगीता सिन्हा सहित अनेक जनप्रतिनिधि और बड़ी संख्या में श्रद्धालु उपस्थित थे। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर कहा कि अब यहां एक नगर पालिका का और एक मंदिर ट्रस्ट का रोप-वे हो गया है। दो रोप-वे होने से यहां आने वाले श्रद्धालुओं को दर्शन करने में काफी सुविधा होगी। यहां लाखों की संख्या में हर वर्ष श्रद्धालु आते हैं। उनकी सुविधा के लिए यह व्यवस्था की गई है।
उल्लेखनीय है कि अत्याधुनिक रोप-वे के प्रारंभ होने से मां बम्लेश्वरी के दर्शन के लिए आने वाले श्रद्धालुओं को एक अच्छी सुविधा मिलेगी। दर्शन में लगने वाले समय की बचत होगी, वहीं बुजुर्गों और दिव्यांगों को भी आसानी होगी। इस रोप-वे के लिए 8 करोड रूपए की लागत आयी है। रोप-वे में 14 ट्रालियां लगायी गई हैं। एक घंटे में अब 500 श्रद्धालु मां का दर्शन करने पहाड़ी पर जा सकेंगे। यह रोप-वे अत्याधुनिक और पूरी तरह से कम्प्यूटरीकृत प्रणाली से संचालित है। यह रोप-वे विद्युत तथा डीजल से चलेगी। दर्शनार्थियों के लिए पहाड़ी के नीचे और ऊपरी हिस्से में तीन मंजिला हाल बनाने कार्य भी किया जा रहा है। नई सुविधाओं और रोप-वे के निर्माण से इस पूरे क्षेत्र में पर्यटन को एक नया आयाम मिलेगा।

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें

Top Ad 728x90