शुक्रवार, 13 मार्च 2020

मध्य प्रदेश: राज्यपाल ने 6 मंत्रियों को हटाया, कमलनाथ बोले- फ्लोर टेस्ट के लिए तैयार

भोपाल। कांग्रेस से बीजेपी में जा चुके दिग्गज नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थक 19 विधायक आज बेंगलुरु से भोपाल वापस आने वाले थे। हालांकि नाटकीय ढंग से ये सभी एयरपोर्ट तक आकर वापस अपने होटल लौट गए। सभी विधायक फिलहाल बेंगलुरु में अपने होटल में ही रहेंगे। भोपाल एयरपोर्ट पर जो बस विधायकों को लेने गई थी, उसे भी वापस बुला लिया गया है।
 कमलनाथ ने सरकार के फ्लोर टेस्ट से पहले बागी विधायकों को बेंगलुरु से वापस बुलाने की मांग की थी। शुक्रवार को इन विधायकों के पहुंचने से पहले मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मुलाकात की। 22 विधायकों के बागी होने के बाद मुख्यमंत्री कमलनाथ ने शुक्रवार शाम को गवर्नर लालजी टंडन से मुलाकात की। गवर्नर से मुलाकात के बाद कमलनाथ ने कहा कि हम स्पीकर द्वारा तय की गई तारीख 16 मार्च को फ्लोर टेस्ट के लिए पूरी तरह तैयार हैं। उन्होंने बीजेपी पर अपने 22 विधायकों को बंधक बनाने का आरोप लगाया। कमलनाथ ने गवर्नर से राज्य का संवैधानिक मुखिया होने के नाते गृह मंत्रालय के सहयोग से अपने विधायकों को छुड़ाने की अपील की। एयरपोर्ट के बाहर कांग्रेस और बीजेपी दोनों ही पार्टियों के कार्यकर्ता अब भी भारी संख्या में मौजूद हैं। इसे देखते हुए एयरपोर्ट के बाहर प्रशासन ने धारा 144 लगा दी है। बताया जा रहा है कि 19 बागी विधायकों ने अपनी सुरक्षा को लेकर चिंता जताते हुए ऐन मौके पर एयरपोर्ट से ही वापस लौटने का फैसला किया। पिछले कुछ दिनों में कर्नाटक के बेंगलुरु में डेरा डाले इन 19 विधायकों के इस्तीफे से ही कमलनाथ सरकार का खेल बिगड़ा है।

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें

Top Ad 728x90