शनिवार, 8 फ़रवरी 2020

विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास मंहत, मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया, विधायक श्री धनेन्द्र साहू ने गुरूदेव धमेन्द्र साहेब से लिया आशीर्वाद


नगरीय प्रशासन मंत्री ने गोबरा-नवापारा कबीर संस्थान के विकास के लिए की 48.40 लाख रूपए की घोषणा

रायपुर। विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास मंहत, नगरीय प्रशासन और श्रम मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया, पूर्व मंत्री और विधायक श्री धनेन्द्र साहू ने गोबरा-नवापारा में आयोजित सत्संग समारोह में कबीर पंथ के गुरूदेव धमेन्द्र साहेब से आशीर्वाद लिया एवं प्रदेशवासियों के सुख समृद्धि के लिए आशीर्वाद मांगा। उल्लेखनीय है कि रायपुर जिले के गोबरा-नवापारा में तीन दिवसीय 38वां कबीर संत्सग समारोह का आयोजन किया गया है।
नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. डहरिया ने इस मौके पर कहा कि हमारे देश में अनेक संत और महात्मा हुए है, लेकिन कबीर पंथ की अपना एक अलग ही पहचान है। छत्तीसगढ़ में भी संत गुरूघासीदास जी जैसे महात्मा जन्म लिए। उन्होंने कहा कि प्राचीन समय से ही साधु-संतों के आशीर्वाद से समाज और देश का विकास शांति और सौहार्द पूर्वक होते रहे हैं। महात्मा कबीर ने तत्कालीन समय में व्याप्त कुप्रथाओं पर गहरी आपत्ति दर्ज करते हुए समतामूलक समाज की स्थापना की कल्पना की थी। डॉ. डहरिया ने कहा कि संत कबीर जी के सद्विचारों को जन-जन तक पहुंचाना चाहिए। डॉ. डहरिया ने कहा कि कबीर जी के विचारों को आगे बढ़ाने के लिए ऐसे आयोजन सराहनीय है। कबीर संस्थान के माध्यम से समाज के दबे-कुचले लोगों को आगे बढ़ाने, उन्हें समाज के मुख्य धारा में जोडऩे का प्रयास किया रहा है। संस्थान संत कबीर जी के विचारों के अनुरूप जाति-पांति में भेदभाव के कदाचरण को त्याग कर समतामूलक समाज निर्माण की दिशा में काम कर रही है। राज्य सरकार भी समतामूलक समाज के निर्माण और उनके विकास के लिए तत्पर है। उन्होंने राज्य सरकार की ओर से हर संभव मदद का आश्वासन दिया। डॉ. डहरिया ने इस दौरान कबीर संस्थान के विकास के लिए 48 लाख 40 हजार रूपये की घोषणा की।
सत्संग समारोह में इलाहाबाद कबीर पारख संस्थान के अध्यक्ष संत कृपाराम साहेब, सूरत से गुरूभूषण साहेब, संतश्री तखसाल जी, संत साध्वी सुमन जी, श्रद्धा जी, संता जी, देवेन्द्र साहेब जी, कबीर संस्थान गोबरा-नवापारा के अध्यक्ष संत श्री विचारदास साहेब सहित संत मण्डली,  नगर पंचायत नवापारा के अध्यक्ष श्री धनराज मड्याने, श्री राधेश्याम साहू, श्री प्रेमलाल साहू, श्री बसंत साहू, श्री द्वारिका साहू सहित बड़ी संख्या में साधु-संत और नगरवासी उपस्थित थे। 

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें

Top Ad 728x90