शनिवार, 29 फ़रवरी 2020

सब कुछ ठीक का, सरकारी दावा आधारहीन : कांग्रेस

नई दिल्ली। कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि मोदी सरकार ने देश की प्रगति को रोक दिया है और आर्थिक विकास को लेकर उसके पास सोच, समझ और दृष्टि नहीं है इसलिए असलियत छिपाने के लिए वह सब कुछ ठीक होने का आधारहीन दावा कर रही है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा ने शनिवार को यहां पार्टी मुख्यालय में विशेष संवाददाता सम्मेलन में कहा कि सकल घरेलू उत्पाद-जीडीपी के जो आंकड़े सामने आए हैं वे चौंकाने वाले हैं। कई दशकों से तीसरी तिमाही के आंकड़े अक्सर मजबूत रहे हैं लेकिन इस बार सात साल में इस तिमाही की जीडीपी दर सबसे कम होकर 4.7 प्रतिशत बताया गई है जो वास्तव में इससे भी बहुत कम है। दशकों में पहली बार जीडीपी में ऐसी गिरावट दर्ज की गयी है और यह सरकार की दिशाहीन आर्थिक नीति का परिणाम है। उन्होंने कहा कि सरकार का आर्थिक स्थिति में सुधार का दावा आधारहीन है। सरकार ने खुद कहा है कि सालाना जीडीपी का उसने जो अनुमान व्यक्त किया है वह उससे भी कम हो गया है। देश में बड़ी संख्या में कारखाने बंद हो रहे हैं, आटोमोबाइल क्षेत्र में दस या 15 दिन महीने में काम हो रहा है जबकि वहां पहले एक दिन में तीन-तीन शिफ्ट में काम होता था। देश में निर्माण नहीं हो रहा है, रोजगार लगातार टूट रहा है, निवेश गिर गया है, निर्यात कम हुआ है। लोगों के पास पैसा नहीं है इसलिए मांग निरंतर गिर रही है और आपूर्ति भी कम हो रही है। प्रवक्ता ने कहा कि सरकार को वास्तविकता को नकारे बिना गांव तक लोगों की आय बढाने के लिए महात्मा गांधी राष्ट्रीय रोजगार गारंटी योजना-मनरेगा को 150 दिन कर दिहाड़ी पांच सौ रुपए प्रति दिन करने का तत्काल फैसला लेना चाहिए। उन्होंने आरोप लगाय कि सरकार गरीबों के प्रति संवेदनहीन है और उसका पूरा ध्यान सिर्फ पूंजीवादी व्यवस्था के पोषण पर है इसलिए वह पूंजीपतियों को कर में छूट दे रही है।

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें

Top Ad 728x90