गुरुवार, 27 फ़रवरी 2020

जीएसटी हेल्प डेस्क अब 12 भाषाओं में

नई दिल्ली। वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) करदाता अब नए टोल फ्री नंबर पर अपनी शिकायत दर्ज करा सकेंगे और अब जीएसटी हेल्प डेस्क् 12 भाषाओं में काम करने लगा है। जीएसटी सिस्टम को आईटी सपोर्ट प्रदान करने वाली कंपनी जीएसटी नेटवर्क ने यहां जारी बयान में कहा कि उसने करदाताओं की जरूरतों को देखते हुए हेल्प डेस्क में कई बदलाव किए हैं। हेल्प डेस्क पोर्टल पर कई नई सुविधाएं भी जोड़ी गई हैं, जिससे करदाताओं को शीघ्र समाधान पहुंचाने में मदद मिलेगी। जीएसटी करदाताओं के लिए नया टोल फ्री नंबर 1800 103 4786 शुरु किया गया है जो सप्ताह में सभी दिन सुबह 9 बजे से रात 9 बजे तक काम करेगा। इसके साथ ही जीएसटी हेल्पडेस्क का पुराना नंबर बंद कर दिया गया है। उसने कहा कि अब तक करदाता जीएसटी हेस्प डेस्क पर सिर्फ हिंदी और अंग्रेजी में ही बात कर सकते थे। अब वे हिंदी और अंग्रेजी के अलावा बंगाली, मराठी, तेलुगु, तमिल, गुजराती, कन्नड़, ओडिया, मलयालम, पंजाबी और असमी में भी बात कर सकते हैं। इस तरह अब हेल्प डेस्क पर कुल 12 भाषाओं में आईटी संबंधी समस्याओं का समाधान प्राप्त किया जा सकता है। जीएसटी हेल्प डेस्क को प्रति दिन औसतन 8,000 से 10,000 कॉल प्राप्त होते हैं। वहीं हर रोज जीआरपी पोर्टल पर 2,000 से 2,500 टिकट जारी किए जाते हैं।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Top Ad 728x90