Your Ads Here

प्रोफेसर स्वर्गीय प्रभुदत्त खेड़ा द्वारा स्थापित स्कूल के बच्चों ने देखी विधानसभा : विधानसभा अध्यक्ष और मुख्यमंत्री से मुलाकात की


रायपुर। सुप्रसिद्ध समाजसेवी प्रोफेसर प्रभु दत्त खेड़ा द्वारा संचालित  अभ्यारण्य शिक्षण समिति द्वारा मुंगेली जिले के बैगा बहुल ग्राम छपरवा में स्थापित उच्चतर माध्यमिक शाला के  बच्चों ने आज विधानसभा देखी और सदन की कार्यवाही का अवलोकन भी किया।  विधानसभा परिसर में इन बच्चों ने विधानसभा अध्यक्ष  डॉ चरणदास महंत और मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल से मुलाकात की । मुख्यमंत्री ने बच्चों से उनकी पढ़ाई लिखाई की जानकारी ली और उन्हें उज्ज्वल भविष्य के लिए आशीर्वाद दिया।
इस अवसर पर स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ प्रेमसाय सिंह टेकाम, खाद्य मंत्री श्री अमरजीत भगत, विधायक श्री सत्यनारायण शर्मा, मुख्य सचिव श्री आर पी मंडल और संचालक एससीईआरटी राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद भी उपस्थित थे। प्रोफेसर डॉ प्रभुदत्त खेड़ा दिल्ली विश्वविद्यालय के पूर्व प्रोफेसर थे। वे निधन के पहले लगभग 30 सालों से मुंगेली जिले के आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र अचानकमार के जंगलों के बीच लमनी गांव में आदिवासी बच्चों को शिक्षित कर रहे थे। उन्होंने लमनी-छपरवा गांव में स्कूल प्रारंभ किया था। स्वर्गीय श्री प्रोफेसर खेड़ा को छत्तीसगढ़ सरकार का पहला महात्मा गांधी स्मृति सम्मान वर्ष 2018 में प्रदान किया गया।

No comments

Powered by Blogger.