Your Ads Here

पढ़ाई के साथ खेलकूद में भी भाग लें : राज्यपाल

नारायणपुर के खेल मेला के समापन समारोह में राज्यपाल


रायपुर। राज्यपाल (governor) सुश्री अनुसुईया उइके (anusuiya uikey)ने विद्यार्थियों से कहा है कि वर्तमान समय में शिक्षा के साथ ही खेलकूद में भी पूरे आत्मविश्वास (self confidence) के साथ भाग लें। वर्तमान समय में खेलकुद से भी कैरियर बनाने की असीम संभावनाएं है। बच्चों को चाहिए कि वे अपने लक्ष्य को हासिल करने के लिए पूरे आत्मविश्वास (self confidence) के साथ जुट जाएं। राज्यपाल (governor) सुश्री उइके आज नारायणपुर जिला मुख्यालय में रामकृष्ण मिशन आश्रम और भिलाई इस्पात संयंत्र (bhilai steel plant) के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित खेल मेला के पुरस्कार वितरण एवं समापन समारोह को संबोधित कर रही थीं। राज्यपाल ने खेल विकास के लिए दो लाख रूपए देने की घोषणा की। इस अवसर पर सुश्री उईके ने खेल प्रतियोगिता के विजेताओं को पुरस्कार वितरित किए।
राज्यपाल (governor) सुश्री उइके ने कहा कि पहली असफलता से नहीं घबराना चाहिए और उसे सफलता की पहली सीढ़ी मानकर और दृढ़ इच्छा शक्ति के साथ अपने उद्देश्य को प्राप्त करने का प्रयास करना चाहिए। उन्होंने कहा कि खेलकूद से जहां टीम भावना विकसित होती है, वहीं नेतृत्व क्षमता का भी विकास होता है। राज्यपाल ने कहा कि खेलों में बेहतर प्रदर्शन कर सर्वश्रेष्ठ उपलब्धि हासिल करने के लिए उत्साह की आवश्यकता होती है। उन्होंने विद्यार्थियों से कहा कि वे महान खिलाडिय़ों की जीवनी पढ़ें और उनसे सीख लेकर खेल प्रतिभा को निखारें।
राज्यपाल सुश्री उइके ने कहा कि बदलते समय में तकनीकी शिक्षा आवश्यक है। कौशल विकास केन्द्रों के माध्यम से बेरोजगार युवकों के लिए विभिन्न व्यवसाय का प्रशिक्षण देने की व्यवस्था की गई है। उन्होंने कहा कि अबूझमाड़ जैसे क्षेत्र में अंग्रेजी एवं गणित के शिक्षक नहीं मिलते हैं। इसके लिए प्रयास किये जा रहे हैं।
रामकृष्ण मिशन के सचिव स्वामी व्याप्तानंद ने कहा कि नारायणपुर क्षेत्र के ग्रामीण अचलों के बच्चों में प्रतिभा की कमी नहीं है। रामकृष्ण मिशन आश्रम के माध्यम से सभी क्षेत्रों में बच्चों की प्रतिभाओं को निखारने का प्रयास किये जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि इस पिछड़े क्षेत्र में गत 34 वर्षों से मिशन के माध्यम से आवश्यक प्रयास किए जा रहे हैं। कोलकाता के प्राचार्य शास्त्रज्ञानंद ने कहा कि विद्यार्थी जीवन में प्राप्त पुरस्कार हमेशा चिरस्मरणीय रहते है। उन्होंने कहा कि जिन बच्चों को पुरस्कार नहीं मिला है वे अपनी कमियों को दूर कर कड़ी मेहनत कर उपलब्धि हासिल करें। भिलाई स्टील प्लांट के निदेशक के. के. सिंह ने कहा कि अपने सामथ्र्य के अनुरूप कार्य को बेहतर ढंग से कर समाज एवं देश की सेवा करने में सहभागी बनना चाहिए।
इस अवसर पर राज्यपाल के सचिव सोनमणि बोरा, बस्तर संभाग के कमिश्नर अमृत कुमार खलखो, पुलिस महानिरीक्षक विवेकानंद सिन्हा, नारायणपुर के कलेक्टर पी.एस. एलमा, पुलिस अधीक्षक मोहित गर्ग और स्कूली बच्चे तथा बड़ी संख्या में खेल प्रेमी उपस्थित थे।

No comments

Powered by Blogger.