Your Ads Here

मुख्यमंत्री ने जंगल सफारी में किया नंदनवन जू का लोकार्पण


  • लगभग 50 एकड़ में बने चिडिय़ाघर में आए नए मेहमान
  • देख सकेंगे सफेद शेर, रॉयल बंगाल टायगर, शेर, हिमालयन बियर, हिप्पोपोटेमस

रायपुर। मुख्यमंत्री (CM) भूपेश बघेल (Bhupesh Baghel) ने वन्य प्राणी सप्ताह के दौरान आज नवा रायपुर अटल नगर स्थित नंदनवन जंगल सफारी (Jungle Safari) में चिडिय़ाघर (जू) का लोकार्पण किया। आज उद्घाटित जंगल सफारी चिडिय़ाघर में वन्य प्राणियों के लिए कुल 37 बाड़े होंगे। लगभग 50 हेक्टेयर क्षेत्र में विकसित किए जा रहे इस चिडिय़ाघर में अभी 11 बाड़े बनाए गए हैं। चिडिय़ाघर (Zoo) में प्राकृतिक परिवेश में दो व्हाइट टाइगर, 4 लायन, 2 रायल बंगाल टाइगर, 2 लेपर्ड, 2 हिमालयन बियर, 2 हिप्पोपोटेमस, 2 घडिय़ाल, 20 ताजे पानी में पाए जाने वाले कछुए, 4 बेंगाल मॉनिटर लिजार्ड, 13 स्टार कछुए, 8 क्रोकोडायल अलग-अलग बाड़े में रखे गए हैं।
    मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इस अवसर पर कहा कि राज्य सरकार वन्य प्राणियों और वनों के संरक्षण तथा संवर्धन के लिए दृढ़ संकल्पित है। वन विभाग द्वारा विकसित जंगल सफारी और चिडिय़ाघर देश में अनूठा है । भविष्य में यहां और भी नए वन्य प्राणी आएंगे। वन्य प्राणियों के लिए सुविधाएं विकसित की जाएंगी । यहां आने वाले पर्यटकों के लिए भी अच्छी व्यवस्था की जाएगी। मुख्यमंत्री ने सफारी जू में अलग-अलग वन्य प्राणियों के लिए बनाए गए बाड़ों का भी लोकार्पण किया।
वन मंत्री मोहम्मद अकबर, नगरीय विकास मंत्री डॉ. शिव डहरिया,  विधायक सर्वधनेन्द्र साहू, कुलदीप जुनेजा, पूर्व विधायक चुन्नी लाल साहू, अपर मुख्य सचिव आर. पी. मंडल,  प्रधान मुख्य वन संरक्षक राकेश चतुर्वेदी, प्रधान मुख्य वन संरक्षक (वन्य प्राणी) अतुल कुमार शुक्ला सहित विभागीय अधिकारी इस अवसर पर उपस्थित थे।
इस वर्ष नंदनवन जू में सात नए बाड़े बनाए जाएंगे, जिनमे ब्लैक बक, लकड़बग्घा, लोमड़ी, सियार, नील गाय, बार्किंग डियर और सांभर रखे जाएंगे। उल्लेखनीय है कि नवा रायपुर स्थित जंगल सफारी लगभग 270 हेक्टेयर में विकसित की गई है, जिसमें प्राकृतिक परिवेश में शाकाहारी वन्य प्राणी, 125 चीतल, 50 ब्लैकबक , 20 सांभर, 9 बार्किंग डियर, 20 नील गाय, 5 भालू और 2 भालू के बच्चे,  4 टाइगर और 7 लायन वर्तमान में है।

No comments

Powered by Blogger.