Your Ads Here

MLA का बड़बोलापन- अफसरों को जूता मारना पड़े तो मारो


राशन कार्ड वितरण कार्यक्रम के दौरान रामानुजगंज से विधायक बृहस्पति सिंह ने दिया विवादित बयान

उन्होंने कहा- कई किसानों ने लोन नहीं लिया, लेकिन बैंक अधिकारियों ने धोखे से हस्ताक्षर करवा लिया

बलरामपुर। छत्तीसगढ़ में आबकारी मंत्री कवासी लखमा के बाद अब बलरामपुर के रामानुजगंज सीट से विधायक बृहस्पति सिंह ने अधिकारियों को लेकर विवादित बयान दिया। एक सरकारी कार्यक्रम के दौरान विधायक सिंह ने कहा कि जो अधिकारी गड़बड़ी करते हैं, उन्हें जूता मारना पड़े तो मारो। कार्यक्रम में खाद्य मंत्री अमरजीत सिंह भगत भी मौजूद थे।
किसानों को धोखा दे उसे किसी कीमत पर बर्दाश्त मत करो
नवीनीकृत राशन कार्ड वितरण कार्यक्रम के दौरान क्षेत्रीय विधायक बृहस्पति सिंह बुधवार को जनता को संबोधित कर रहे थे। विधायक सिंह ने किसानों के हक में बात करते हुए अधिकारियों को निशाना बनाया। उन्होंने कहा, कई किसानों ने लोन नहीं लिया है, लेकिन बैंक अधिकारियों ने धोखे से हस्ताक्षर करवा लिया है। अब नोटिस भेज रहे हैं। ये बहुत गंभीर बात है। मैने मुख्यमंत्री साहब से बात की है, कलेक्टर से बात की है। उन्होंने कहा कि मेरा आपसे आग्रह है कि जो अधिकारी गड़बड़ करता है, किसानों को धोखा देता है। उसे किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। किसानों के साथ धोखाधड़ी करने वाले अधिकारियों के खिलाफ जांच होनी चाहिए। ऐसे अधिकारियों को जूता मारना पड़े तो मारो, लेकिन किसानों को धोखा देना कदापि बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।
आबकारी मंत्री बोले थे- बड़ा नेता बनना है तो एसपी और कलेक्टर का कॉलर पकड़ो
इससे पहले छत्तीसगढ़ के आबकारी मंत्री कवासी लखमा का भी विवादित बयान देकर चर्चा में आ चुके हैं। उनका वीडियो भी वायरल हुआ था। सुकमा में शिक्षक दिवस के अवसर पर एक शासकीय स्कूल में हो रहे कार्यक्रम में किसी बच्?चे ने पूछा कि बड़ा नेता कैसे बना जाए? इस पर मंत्री लखमा ने बच्चों से कहा कि अगर बड़ा नेता बनना है तो एसपी और कलेक्टर का कॉलर पकड़ो।

No comments

Powered by Blogger.