Your Ads Here

यमुना एक्सप्रेस-वे बस हादसा: ड्राइवर की एक झपकी ने लील ली 29 लोगों की जान

Related image
आगरा। यमुना एक्सप्रेस-वे पर तूफानी रफ्तार से देर रात दौड़ रही यूपी राज्य परिवहन की बस 29 यात्रियों के लिये अंतिम यात्रा साबित हुई। यूपी की राजधानी लखनऊ से दिल्ली जा रही एक डबल डेकर रोडवेज बस आगरा के पास 30 फिट गहरे नाले में जा गिरी। इस भीषण हादसे में बस में सवार एक महिला और बच्चे सहित 29 लोगों की मौत हो गई। शुरुआती जांच में पता चला है कि ड्राइवर को झपकी आने से यह दर्दनाक हादसा हुआ है। आगरा के डीएम एनजी रवि कुमार ने भी इसकी आशंका जताई है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने सभी पीडि़त परिवारों को 5 लाख रुपये मुआवजे का ऐलान किया है। इसके साथ ही उन्होंने हादसे की जांच के लिए तीन सदस्यीय कमिटी का गठन किया है। सीएम ने समिति को 24 घंटे में रिपोर्ट सौंपने का निर्देश दिया है।
रेलिंग तोड़कर नाले में गिरी बस
 अवध बस डिपो की रोडवेज बस रविवार रात 10 बजे आलमबाग रोडवेज बस स्टैंड से दिल्ली के लिए निकली थी। बस लखनऊ एक्सप्रेस-वे और इनर रिंग रोड होते हुए तड़के लगभग साढ़े चार बजे करीब बस यमुना एक्सप्रेस- वे पर पहुंच गई। बताया जा रहा है कि यहां से दो-तीन किलोमीटर चलते ही चालक को झपकी आ गई। इसके बाद अनियंत्रित होकर बस यमुना एक्सप्रेस- वे की चार फ ीट ऊंची रेलिंग को तोड़ते हुए 30 फ ीट गहरे नाले में जा गिरी।
45 यात्री सवार थे बस में
हादसे के वक्त बस में 45 यात्री सवार थे। हादसे के समय अधिकतर यात्री गहरी नींद में थे। किसी को चीखने का भी मौका नहीं मिला। गांव के ही एक व्यक्ति ने हादसे के समय धमाके जैसी जोर की आवाज सुनी। उसी ने आसपास के लोगों को इसकी जानकारी दी। इसके बाद गांव वाले भारी संख्या में वहां पहुंच गए। ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी।

No comments

Powered by Blogger.