Your Ads Here

एनएमडीसी 1395 करोड़ के बीएचईएल के साथ हुए करार को करेगा रद्द

Image result for nmdc

रायपुर  । सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम राष्ट्रीय खनिज विकास निगम (एनएमडीसी) ने छत्तीसगढ़ के नगरनार में निर्माणाधीन इस्पात संयंत्र के लिए भारत हैवी इलेक्ट्रिकल लिमिटेड(बीएचईएल)के साथ.. रा मैटेरियल हैंडलिंग सिस्टम..लगाने के 1395 करोड़ रूपए के हुए करार को रद्द करने का निर्णय़ लिया है।
राष्ट्रीय खनिज विकास निगम (एनएमडीसी) के अध्यक्ष सह प्रबंध निदेशक एन.बैजेन्द्र कुमार ने यूनीवार्ता से इसकी पुष्टि करते हुए आज कहा कि करार को रद्द करने के लिए बीएचईएल को नियमानुसार नोटिस जारी किया गया है।उन्होने इसे प्रक्रियाधीन बताते हुए और जानकारी देने से मना करते हुए स्वीकार किया कि इस वजह से नगरनार संयंत्र के उत्पादन शुरू में निरन्तर देरी हो रही है।
निगम के सूत्रों के अनुसार छत्तीसगढ़ में बस्तर जिले के नगरनार में एनएमडीसी द्वारा स्थापित किए जा रहे इस्पात संयंत्र में रा मैटेरियल हैंडलिंग सिस्टम..लगाने के लिए एनएमडीसी एवं बीएचईएल के बीच एक अगस्त 2011 में करार हुआ था। 1395 करोड रूपए के इस करार के अनुसार बीएचईएल को 28 फरवरी 2014 तक सिस्टम को लगाना था। करार को पूरा करने की नियत तिथि को पांच वर्ष से भी अधिक हो चुके है,पर कब तक यह काम बीएचईएल पूरा करेगा कुछ भी स्पष्ट नही है।
सूत्रों के अनुसार एनएमडीसी ने अपने स्तर से बीएचईएल से करार को पूरा करवाने का काफी प्रयास किया,लेकिन उसे कामयाबी नही मिली।इस मामले में बीएचईएल की तरफ से हो रही लेटलतीफी की जानकारी प्रधानमंत्री कार्यालय को भी दी गई,जिसके बाद वहां से भी कड़े निर्देश दिए गए पर उसके बाद भी बीएचईएल की ओर सो कोई कारगर पहल होती नही दिखाई पड़ी।
आखिरकार एनएमडीसी ने बीएचईएल के साथ 1395 करोड़ के हुए अनुबंध को करार को 95 महीने बाद भी पूरा नही किए जाने के आधार पर उसे रद्द करने का निर्णय लिया है।एनएमडीसी ने अनुबंध रद्द करने के लिए नियमानुसार बीएचईएल को दो दिन पहले नोटिस भेज दिया है। 

No comments

Powered by Blogger.