Your Ads Here

आईटी और लोकतंत्र का भाजपा सरकार कर रही है हथियार की तरह इस्तेमाल


  • विपक्ष की आवाज को कुचलने के लिये संवैधानिक संस्थाओं को हो रहा है दुरूपयोग
  • आम चुनावों में तयशुदा हार सामने देख कर भाजपा बौखलाई

रायपुर ।  कर्नाटक में चुनाव के समय छापे डाले गये और विपक्ष को आतंकित करने के लिये आईटी और ईडी का दुरूपयोग किया गया। आंध्रप्रदेश में छापे डाले गये और अब मध्यप्रदेश में यही कहानी दोहराई गयी है। ऐन चुनाव के समय ईडी और इंकम टैक्स का दुरूपयोग भाजपा की सरकार राजनैतिक हथियार की तरह कर रही है। जहां भाजपा को राजनैतिक दिक्कत हो वहां इन संस्थाओं का दुरूपयोग भाजपा कर रही है। राजनैतिक हथकंडो में संवैधानिक संस्थाओं का दुरूपयोग लोकतंत्र के लिये घातक है। चुनावों के समय इन एजेंसियों का उपयोग लोकतंत्र के लिये बेहद नुकसानदेह है और मोदी सरकार और भाजपा के लोकतंत्र विरोधी चरित्र का जीताजागता सबूत है।
प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि लोकसभा चुनाव में तयशुदा हार सामने देखकर भाजपा बौखला गयी है। छत्तीसगढ़ के भाजपा नेताओं की शब्दावलि भी इसी का जीताजागता सबूत है।
रामविचार नेताम 1 करोड़ इंदिरा बैंक के परिसमापन अधिकारी के पास जमा करें
रामविचार नेताम की एक करोड़ देने की फिर से घोषणा पर प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि रामविचार नेताम को एक करोड़ रू. देने ही है तो इंडिया प्रियदर्शनी बैंक के खाते में जमा करें ताकि बैंक के खातेदारों को उनके हक का पैसा दिया जा सके। रामविचार नेताम 1 करोड़ इंदिरा बैंक के परिसमापन अधिकारी के पास जमा करें।  

No comments

Powered by Blogger.