Your Ads Here

लग्जरी लाइफ के लिए लोन लेने में महिलाएं आगे, पुरुषों को छोड़ा पीछे


नई दिल्ली  । देश की महिलाओं के बीच लग्जरी लाइफ की होड़ तेजी से बढ़ रही है। महिलाएं अमीर बनने और कार, टू-व्हीलर तथा अन्य लक्जरी आइटम के अपने शौक पूरे करने के लिए भारी मात्रा में लोन लेने में भी संकोच नहीं कर रही हैं। गत तीन वर्षों 2015 से 2018 की बात करें तो लोन लेने वाली महिलाओं की संख्या में 48 फीसदी का इजाफा हो गया है। वहीं, पुरुषों की कर्ज लेने की दर में महज 35 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है।
यह दिलचस्प जानकारी ट्रांसयूनियन सिबिल द्वारा कराए गए एक अध्ययन में सामने आई है। रिपोर्ट के मुताबिक उधार लेने के लिए महिलाएं प्रति वर्ष लगभग 86 लाख नए खाते खोल रही हैं। इनमें से 66 प्रतिशत महिलाएं दक्षिणी भारत के  तमिलनाडु, केरल, आंध्र प्रदेश, महाराष्ट्र और कर्नाटक से हैं। सबसे ज्यादा तमिलनाडु में 27 फीसदी, केरला में 13, महाराष्ट्र में 9, कर्नाटक में 7 और अन्य राज्यों में 34 प्रतिशत है। यहां महिलाएं स्वावलंबी होने के साथ अपने व्यापार को बढ़ाने और अपनी निजी जरूरतों को पूरा करने के लिए कर्ज लेने में हिचकिचाती नहीं हैं। वे नए उद्यम स्थापित करने के लिए बिजनेस लोन को तरजीह दे रही हैं।
महिलाओं में सोने के प्रति अभी भी आकर्षण बरकरार है। वे या तो सोना खरीदने के लिए लोन लेती है या फिर इसे गिरवी रखकर अपने शौक पूरे करती हैं। गोल्ड लोन (या लोन अंगेस्ट गोल्ड) अभी भी 5.64 करोड़ खातों के साथ सबसे आगे है। हालांकि 2018 में इसमें 13 प्रतिशत की गिरावट आई है। इसके बाद बिजनेस लोन का नंबर आता है।  

No comments

Powered by Blogger.