Your Ads Here

पीएमटी छात्रावास हेतु नवीन भवन बनेगा : श्री कवासी लखमा




उत्तर बस्तर (कांकेर)। प्रदेश के वाणिज्य (आबकारी) एवं उद्योग मंत्री श्री कवासी लखमा ने छात्रावास दिवस पर पीएमटी छात्रावास कांकेर में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि शिक्षा ही एक ऐसा धन ह,ै जिसे कोई चोरी नहीं कर सकता, बांटने से बढ़ता है और अंतिम सांस तक साथ देता है। कलम में बड़ी ताकत होती है, सभी लोग पढ़ें और आगे बढ़ें। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने पदभार ग्रहण करते ही सबसे पहले किसानों का कर्ज माफ किया, सरकार द्वारा तेंदूपत्ता की पारिश्रमिक दर भी बढ़ा दी गई है। तंेदूपत्ता संग्राहकों को अब प्रति मानक बोरा 4 हजार रूपए के दर से पारिश्रमिक प्राप्त होगा। उन्होंने कहा कि बस्तर संभाग के विकास में संसाधनों की कमी आने नहीं दी जाएगी। छात्रों की मांग पर श्री लखमा ने पीएमटी छात्रावास के लिए नवीन भवन बनाने हेतु आश्वस्त किया तथा कहा कि महाविद्यालयीन छात्र-छात्राओं की छात्रवृत्ति दर बढ़ाने का भी प्रयास किया जाएगा।

मुख्यमंत्री के संसदीय सलाहकार श्री राजेश तिवारी ने अपने छात्र जीवन को याद करते हुए बताया कि नवीन कॉलेज भवन बनने के पूर्व सुविधाओं की कमी थी, उसके बावजूद उस समय के छात्र-छात्राओं ने कड़ी मेहनत कर अपने मुकाम को हासिल किया और देश और प्रदेश में विभिन्न पदों को सुशोभित करते हुए कांकेर जिले का नाम रोशन किया। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की सोच है कि बस्तर विकास प्राधिकरण का अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष स्थानीय विधायक ही बनें। जल, जंगल और जमीन का अधिकार वनवासियों को मिलेगा, स्थानीय स्तर पर विभिन्न पदों की भर्ती होगी। उन्होंने छात्रावास दिवस पर छात्र-छात्राओं को बधाई देते हुए शिक्षा के प्रति विशेष ध्यान देने के लिए प्रोत्साहित करते हुए कहा कि अच्छी पढ़ाई करें और विभिन्न क्षेत्रों में प्रगति कर अपने जिला एवं राज्य का नाम रोशन करें।
कांकेर विधायक श्री शिशुपाल शोरी, अंतागढ़ विधायक श्री अनूप नाग, बीजापुर विधायक श्री विक्रमदेव मण्डावी तथा कोण्डागांव कलेक्टर श्री नीलकंठ टेकाम ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया।
इस अवसर पर सर्व आदिवासी समाज के अध्यक्ष चंद्रकांत ध्रुवा, सेवानिवृत्त सहायक पुलिस महानिदेशक श्री भारत भूषण ठाकुर, एएसपी पीटीएस माना श्री गोर्वधन सिंह वट्टी, सहित छात्र-छात्राएं बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

No comments

Powered by Blogger.