Your Ads Here

ब्रम्हर्षि भूमिहर ब्राम्हण समाज मेहनतकश समाज है - मुख्यमंत्री बघेल


रायपुर, । मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल कल रात भिलाई नगर के सेक्टर-2 स्थित परशुराम भवन में आयोजित ब्रम्हर्षि भूमिहर ब्राम्हण समाज के सामाजिक अधिवेशन में शामिल हुए। उन्होंने समारोह में प्रतिभावान छात्र-छात्राओं एवं प्रगतिशील महिलाओं को आयोजकों की ओर से प्रतीत चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर कहा कि भगवान परशुराम, ब्रम्हर्षि भूमिहर समाज का आदर्श हैै। जिस समाज का आदर्श परशुराम हो, वह समाज सदैव अग्रणी रहता है। उन्होंने कहा कि यह समाज मेहनतकश और पराक्रमी समाज है। उन्होंने कहा कि भिलाई को मिनी भारत कहा जाता है। भिलाई में अनेक प्रांतों और समाज के लोगों आकर बसे हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि भगवान परशुराम की अनेक कथाएं मिलती है। उन्होंने समाज को दिशा देने का काम किया है। उनके बताये गए मार्ग पर चल कर यह समाज विकास की दिशा में आगे बढ़ रहा है। श्री बघेल ने कहा कि भिलाई ग्राम के नाम से इस्पात संयंत्र का नाम रखा गया है। भिलाई इस्पात संयंत्र भारत की अर्थव्यवस्था की रीढ़ है, जो स्टील निर्माण के साथ ही लोगों को रोजगार दे रहा है। कार्यक्रम में समाज के लोगों ने मुख्यमंत्री का आत्मीय स्वागत किया। कार्यक्रम में स्थानीय जनप्रतिनिधिगण, ब्रम्हर्षि समाज के पदाधिकारी और बड़ी संख्या में समाज के सदस्य उपस्थित थे।

No comments

Powered by Blogger.