युगों-युगों तक याद रहेगा वीर नारायण सिंह का बलिदान : डॉ. रमन सिंह


  • मुख्यमंत्री ने शहादत दिवस पर अमर शहीद को दी विनम्र श्रद्धांजलि
रायपुर । छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कल 10 दिसम्बर को छत्तीसगढ़ के अमर शहीद वीरनारायण सिंह के शहादत दिवस पर उन्हें विनम्र श्रद्धांजलि दी है। मुख्यमंत्री ने उनके शहादत दिवस की पूर्व संध्या पर आज यहां जारी संदेश में कहा है कि देश की आजादी और मातृभूमि के प्रति उनका समर्पण और बलिदान युगों-युगों तक याद रहेगा। डॉ. रमन सिंह ने कहा-सोनाखान के वीर नारायण सिंह छत्तीसगढ़ महतारी और भारत माता के सच्चे सपूत थे, जिन्होंने सन 1857 के प्रथम भारतीय स्वंतत्रता संग्राम के दौरान छत्तीसगढ़ की जनता में देशभक्ति की भावना का संचार किया और आम जनता के क्रांतिकारी नायक बनकर उभरे। उनके मन में गरीबों और वंचितों के प्रति करूणा और परोपकार की भावना प्रबल थी, जिसके चलते उन्होंने सन 1856 के भयानक अकाल के दौरान गरीबों को भूख से बचाने के लिए अंग्रेजी हुकूमत के खिलाफ कठिन संघर्ष किया और अपने प्राण न्यौछावर कर दिए। मुख्यमंत्री ने कहा है कि भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के गौरवशाली इतिहास में वीर नारायण सिंह के बलिदान को हमेशा याद रखा जाएगा।