कांग्रेस करती है नकारात्मक एवं आरोपों की राजनीति -शाह


जयपुर  । भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष अमित शाह ने कांग्रेस पर नकारात्मक एवं आरोपों की राजनीति करने का आरोप लगाते हुए दावा किया है कि राजस्थान में पूर्ण बहुमत के साथ भाजपा की फिर से सरकार बनेगी।
श्री शाह ने आज यहां पत्रकारों से कहा कि राज्य में चुनाव प्रचार के आखिरी दिन तक प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह एवं अन्य मंत्री और वह खुद तथा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सहित कई नेताओं ने 222 बड़ी संभाएं तथा पन्द्रह रोड शो किया हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें पूरा विश्वास हैं कि इससे बने माहौल से भाजपा पूरे बहुमत के साथ फिर राज्य में वसुंधरा राजे के नेतृत्व में सरकार बनायेगी।
उन्होंने कहा कि चुनाव प्रचार में केन्द्र एवं राज्य सरकार की जनहित की योजनाओं के एक करोड़ 70 लाख लाभार्थियों का उत्साहजनक प्रतिसाद भी मिला। इस दौरान सरकार की योजनाओं का सीधा प्रभाव दिख रहा था और पूरे चुनाव के गणित को ही बदल दिया। उन्होंने कहा कि अगले वर्ष भी केन्द्र में बड़े बहुमत के साथ भाजपा की सरकार बनेगी।
उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस जातिवाद और परिवारवाद के मुद्दों तथा तुष्टीकरण की नीति को बढावा देती हैं जबिक भाजपा ने पोलिटिक्स परफोर्मेन्स का मुख्य मुद्दा बनाया हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस तो अपना नेता भी तय नहीं कर पाई हैं क्यों कि उसके पास न नेता, न नीति और नहीं सिद्धांत हैं।
उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने प्रधानमंत्री की गरिमा को ही नीचे गिराने का प्रयास किया हैं। उन्होंने कहा कि श्री मोदी के नेतृत्व में देश के विकास को गति मिली हैं और तेज अर्थव्यवस्था एवं देश की सुरक्षा सुनिश्चित हुई तथा भ्रष्टाचार को नेस्तनाबूद किया हैं। इसी तरह श्रीमती राजे ने राजस्थान में विकास किया हैं और बीमारु राज्य से उसे विकसित राज्य बनाया हैं और अब उसे समृद्ध बनाने का लक्ष्य हैं और इसके लिए जनता के आर्शीवाद की जरुरत हैं।
उन्होंने एक सवाल पर कहा कि बीकानेर में जो वीडियो जारी हुआ उसमें जो भारत माता के बारे में जो बोला गया हैं इससे कांग्रेस इंकार क्यों नहीं कर रही। उन्होंने कहा कि कांग्रेस को इस बारे में जवाब देना चाहिए। उन्होंने कहा कि जनसंघ के समय से आज तक भाजपा के सभी कार्यक्रमों की शुरुआत भारत माता की जय से होती हैं।
राजस्थान में एक ही मुस्लमान को टिकट देने के सवाल पर उन्होंने कहा कि कहीं तो एक भी नहीं दी गई हैं। उन्होंने कहा कि हम जाति नहीं मानते और कार्यकर्ता के काम के आधार पर उसे पार्टी का टिकट दिया जाता हैं।
राज्य में हुए उपचुनाव में भाजपा की हार पर उन्होंने कहा कि उपचुनाव में स्थानीय मुद्दे ज्यादा हावी होते हैं और आम चुनाव अलग होते हैं। उन्होंने कहा कि पिछले अगस्त से अब तक बहुत कुछ हुआ हैं।
वन रैंक वन पेंशन के मामले में किये सवाल पर उन्होंने कहा कि यह मामला 50 साल पुराना था और कांग्रेस ने इस बारे में कभी कुछ नहीं किया जबकि मोदी सरकार ने साढे आठ सौ करोड़ रुपए का सीधा फायदा पहुंचाया हैं।