नेता देते रहे गंदी-गंदी गालियां...अशोक बोले- देखते हैं कैसे चुनाव जीत लेते हो

बिलासपुर । कांग्रेस की लिस्ट में न्यायधानी बिलासपुर से विधानसभा टिकट शैलेष पांडेय को दिया है तब से लेकर आज तक पार्टी में शैलेष पांडेय को जमकर विरोध हो रहा है। यह आज कांग्रेस भवन में भी दो नेताओं के बीच देखने को मिला। अब कांग्रेस के प्रत्याशी और दावेदारों में ही भिड़ंत हो गयी। भिड़ंत इतनी भयानक थी, पूरे कांग्रेस भवन में गंदी-गंदी गालियां गूंजने लगी। गालियां ऐसी थी, कि मौजूद महिला कांग्रेस की कार्यकर्ताएं और नेता शर्मिंदा होकर मुंह छुपाकर निकलने को मजबूर हो गयी।
ये घमासान कांग्रेस प्रत्याशी शैलेष पांडेय और अशोक अग्रवाल के बीच हुआ। दोनों के बीच आज कांग्रेस भवन में जोरदार तरीके से लड़ाई हो गयी। दरअसल हुआ यूं कि कांग्रेस भवन में चुनावी रणनीति बनाने के लिए बैठक रखी गयी थी। सभी सीनियर लीडर तय वक्त 12 बजे पहुंच चुके थे, लेकिन कांग्रेस प्रत्याशी शैलेश पांडेय वहां से गायब थे। काफी देर तक सभी कांग्रेस नेता इंतजार करते रहे, उसके बाद शैलेश पांडेय वहां पहुंचे। शैलेश पांडेय ने अशोक अग्रवाल से फोन नहीं उठाने की शिकायत की, जिसके बाद ही बातचीत का ये सिलसिला विवाद में बदल गया। कार्यकर्ताओं और नेताओं की मौैजूदगी में ही शैलेष पांडेय और अशोक अग्रवाल आपस में भिड गये।
गंदी-गंदी गालियां कांग्रेस भवन में दी जाने लगी। इस बैठक में महिला कांग्रेस को भी बुलाया गया था, दो बड़े नेताओं को आपस में इस तरह से गाली-गलौज करते देख महिलाएं भी शर्मिंदा हो गयी। अशोक अग्रवाल ने चेतावनी दी कि देखता हूं चुनाव कैसे जीतोगे, जोगी भी मेरा नहीं बिगाड़ सके, तो तुम क्या बिगाड़ लोगे" ज्.उसके बाद अशोक अग्रवाल कांग्रेस भवन तेजी से बाहर निकल आए, उनके पीछे पूर्व महापौर वाणी राव भी कांग्रेस भवन से बाहर निकल गयी।