सिर में खुजली से परेशान? ट्राई करें ये 7 आसान घरेलू तरीके



सिर में खुजली न सिर्फ आपकी और आपके बालों की सेहत के लिए परेशानी की वजह हो सकती है बल्कि शर्मिंदगी की भी। खासकर, सर्दियों में स्कैल्प ड्राई होने पर यह प्रॉब्लम और भी बढ़ जाती है। ऐसे में क्या किया जाए कि सिर की खुजली से बचा जाए? यहां देखें, 7 आसान घरेलू तरीके जिनसे आप सिर की खुजली को कह सकते हैं बाई...

नींबू का रस

नींबू के रस में ऐंटी-माइक्रोबियल और ऐंटी-इन्फ्लेमटरी खूबियां होती हैं। एक कॉटन बॉल से इस स्कैल्प पर लगाकर 10-15 मिनट के लिए छोड़ दें और फिर पानी से धो दें। ऐसा हफ्ते में एक-दो बार करें और आपको आराम मिलेगा।

नारियल तेल

कई बार खुजली का कारण स्कैल्प का सूखापन होता है। नारियल का तेल स्कैल्प के लिए बेहतरीन मॉइस्चराइजर होता है। इसे गर्म करके सिर में मसाज करें। जितनी देर हो सके, इसे छोड़ दें और फिर शैंपू से धो दें। इसके अलावा, नारियल के तेल में थोड़ा सा कपूर मिलाकर सिर की त्वचा पर मालिश करें। कपूर की तासीर ठंडी होती है जिसके चलते खुजली शांत होगी और किसी तरह का इंफेक्शन होने पर भी ठीक हो जाएगा।

बेकिंग सोडा

2-3 चम्मच बेकिंग सोडा लें और पानी के साथ पेस्ट बनाएं। इसे स्कैल्प पर लगाएं और 10-15 मिनट के लिए छोड़ दें। बेकिंग सोडा ऐंटी-बैक्टीरियल और ऐंटी-फंगल एजेंट होता है और यह स्कैल्प का श्च॥ कम करता है।

प्याज का रस

एक प्याज लेकर उसका रस निकालें। इसे कॉटन से स्कैल्प पर लगाएं और कम से कम 20 मिनट के लिए छोड़ दें। इससे स्कैल्प की इन्फेक्शन से सुरक्षा होगी और जलन कम होगी।

ऐपल साइडर विनेगर

एक चम्मच ऐपल साइडर विनेगर को चार चम्मच पानी में मिलाएं और स्कैल्प की मसाज करें। सेब में मौजूद मैलिक ऐसिट में ऐंटी-बैक्टीरियल और ऐंटी फंगल प्रॉपर्टीज खुजली कम करती हैं।

गेंदे के फूल

गेंदे के फूल में एंटी-इंफ्लेमेंटरी और एंटी-बैक्टिरियल गुण होते हैं, जो सिर की खुजली दूर करने में मददगार हैं।

दही

दही से सिर की त्वचा पर मसाज करने से भी खुजली दूर होती है। इससे बालों में चमक आती है। सिर की सफाई भी जरूरी है क्योंकि गंदगी से खुजली हो सकती है।