बुधवार, 6 मई 2020

ओलम्पिक में क्रिकेट का टी-10 फॉर्मेट रखना चाहिए: मोर्गन


लंदन। क्रिकेट को ओलम्पिक में शामिल किये जाने की चर्चा लम्बे समय से चल रही है और इंग्लैंड के विश्व कप विजेता कप्तान इयान मोर्गन का सुझाव है कि क्रिकेट के टी-10 फॉर्मेट को ओलम्पिक में शामिल किया जाना चाहिए जिससे पूरा टूर्नामेंट 10 दिन के अंदर समाप्त हो जाएगा। क्रिकेट 1900 के ओलम्पिक और 1998 के राष्ट्रमंडल खेलों में खेला गया था। लेकिन यह बहु-खेल आयोजनों का हिस्सा नहीं रहा है। वर्ष 2022 में होने वाले बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों में महिला टी-20 टूर्नामेंट का आयोजन होगा। टी-20 इस समय दुनिया का सबसे लोकप्रिय फॉर्मेट है जबकि टी-10 को भी आजमाया जा रहा है। कुछ समय पहले अबु धाबी में टी-10 टूर्नामेंट का आयोजन हुआ था जिसमें मोर्गन ने दिल्ली बुल्स टीम की कप्तानी की थी।
मोर्गन ने कहा कि ओलम्पिक में टी-10 ट्वंटी-20 वनडे या टेस्ट के मुकाबले सबसे बेहतर फॉर्मेट कहेगा। यह ओलम्पिक या राष्ट्रमंडल खेलों के लिए सबसे उपयुक्त है क्योंकि पूरा टूर्नामेंट 10 दिनों में पूरा हो जाएगा जो ओलम्पिक की अवधि के लिहाज से सही होगा। 33 वर्षीय मोर्गन ने कहा कि 8-10 दिन का टूर्नामेंट दर्शकों को भी आकर्षित करेगा।

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें

Top Ad 728x90