मंगलवार, 21 अप्रैल 2020

भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच पांच टेस्टों की सीरीज, दर्शकों के बिना एक जगह


मेलबोर्न । क्रिकेट की दो ताकतों भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच पांच मैचों की टेस्ट सीरीज एक ही स्टेडियम में दर्शकों के बिना। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) इस विकल्प पर विचार कर रहा है। वैश्विक महामारी बन चुके कोरोना वायरस के कारण दुनिया भर में क्रिकेट गतिविधियां ठप्प पड़ी हैं और कई सीरीज स्थगित की जा चुकी हैं और ऑस्ट्रेलिया में अक्टूबर-नवम्बर में होने वाले टी-20 विश्व कप और उसके बाद भारत के खिलाफ होने वाली सीरीज संकट में पड़ी हुई है। भारतीय टीम साल 2020 के आखिर में ऑस्ट्रेलियाई दौरा करना है, जहां दोनों देशों के बीच चार मैचों की टेस्ट सीरीज होनी है, लेकिन ऑस्ट्रेलियाई बोर्ड चाहता है कि ये सीरीज पांच मैचों की हो।
सीए क्रिकेट गतिविधियां ठप्प होने से वित्तीय दबाव झेल रहा है और कर्मचारियों के वेतन में कटौती की जा चुकी है तथा खिलाड़ियों के वेतन में कटौती की तैयारी है। इन हालात में सीए चाहता है कि भारत के साथ सीरीज हर हाल में हो ताकि उसके नुकसान की भरपाई हो सके।
सीए के विकल्पों में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच पांच टेस्ट मैचों की सीरीज आयोजित करने की योजना है। सीए के सीईओ केविन रॉबर्ट्स चाहते हैं कि साल के आखिर में भारत के साथ पांच मैचों की टेस्ट सीरीज हो।
रॉबर्ट्स ने वीडियोकॉल के माध्यम से संवाददाताओं से कहा, “आगामी सत्र में पांच मैचों की टेस्ट सीरीज को लेकर कोई भी निश्चितता नहीं है, लेकिन मैं यह कह सकता हूं कि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) और सीए के रिश्ते काफी मजबूत हैं।”

दरअसल निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार भारत को इस दौरे पर चार टेस्ट और तीन वनडे खेलने हैं, लेकिन नवंबर में शुरू होने वाली इस सीरीज में एक टेस्ट मैच और जोड़ा जा सकता है। बीसीसीआई के साथ अपने संबंधों को मधुर बताते हुए रॉबर्ट्स ने कहा कि पांच मैचों की टेस्ट सीरीज की संभावना है, लेकिन अभी इस समय कुछ भी निश्चित नहीं है।

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें

Top Ad 728x90