गुरुवार, 16 अप्रैल 2020

कोरोना: बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन ने दिए 15 करोड़ डॉलर


न्यूयॉर्क। माइक्रोसॉफ्ट कंपनी के सह संस्थापक और अध्यक्ष बिल गेट्स की संस्था बिल एण्ड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन ने वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (कोविड-19) के खिलाफ जारी लड़ाई में 15 करोड़ डॉलर का अतिरिक्त योगदान देने की घोषणा की है। इसके साथ ही बिल एण्ड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन की ओर से अब तक कोविड-19 से निपटने के लिए कुल 25 करोड़ डॉलर का योगदान किया गया है।
बिल एण्ड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन की ओर से जारी किए गए एक वक्तव्य के मुताबिक इस अतिरिक्त राशि का उपयोग डॉयग्नोस्टिक्स, चिकित्सीय और टीके का विकास करने में किया जाएगा। इसके अलावा इस वित्तीय सहायता से कोविड-19 से जूझ रहे अफ्रीकी और दक्षिण एशियाई देशों की भी मदद की जाएगी। श्री गेट्स ने कहा, "कोविड-19 सीमाओं के कानून को नहीं मानता। उन्होंने कहा यदि अगले कुछ महीनों में अधिकतर देश कोरोना वायरस के संक्रमण की गति को कम करने में सफल होते हैं तथा इसके बावजूद किसी अन्य देश से यह महामारी दोबारा फैल सकती है। विश्व समुदाय को यह समझना होगा कि कोविड-19 का संक्रमण यदि किसी एक जगह भी है तो उस पर काबू पाने की पूरी कोशिश होनी चाहिए। इस महामारी पर विजय पाने के लिए बड़े पैमाने पर अंतरराष्ट्रीय फंडिंग और सहयोग की जरुरत होगी। इससे पहले श्री गेट्स ने कोरोना वायरस के लगातार बढ़ते हुए संक्रमण के बीच अमेरिका की ओर से विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की फंडिंग रोकने को खतरनाक करार दिया था। माइक्रोसॉफ्ट अध्यक्ष ने कहा कि डब्ल्यूएचओ की ओर से किए जा रहे कार्यों से कोविड-19 के संक्रमण को तेजी से फैलने से रोकने में मदद मिली है यदि डब्ल्यूएचओ का काम रुक जाता है तो कोई दूसरा संगठन उसका स्थान नहीं ले सकता। उन्होंने कहा कि मौजूदा समय में विश्व को डब्ल्यूएचओ की पहले से कहीं अधिक आवश्यकता है।
दरअसल, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने डब्ल्यूएचओ को दिए जाने वाले फंड को रोकने का निर्देश दिया है। श्री ट्रम्प ने डब्ल्यूएचओ पर कोरोना के संक्रमण को फैलने से रोकने में असफल रहने तथा इससे संबंधित सही जानकारी छिपाने का आरोप लगाया है। गौरतलब है कि अमेरिका डब्ल्यूएचओ को प्रति वर्ष 40 से 50 करोड़ डॉलर की वित्तीय सहायता प्रदान करता है। जॉन हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के विज्ञान एवं इंजीनियरिंग केन्द्र (सीएसएसई) की ओर से जारी किए गए ताजा आंकड़ों के मुताबिक दुनिया में कोरोना से मरने वालों की संख्या 137078 पहुंच गयी है जबकि 20 लाख से अधिक लोग इससे संक्रमित हुए हैं।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

Top Ad 728x90