सोमवार, 17 फ़रवरी 2020

चेन्नइयन ने एटीके को 3-1 से हराया

कोलकाता। दो बार की चैंपियन चेन्नइयन एफसी ने रविवार को यहां विवेकानंद युवा भारतीय क्रीड़ांगन में खेले गए हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के छठे सीजन के मैच में दो बार की चैंपियन एटीके को 3-1 से हरा दिया। इस जीत के साथ ही चेन्नइयन के 16 मैचों से 25 अंक हो गए हैं और वह अंक तालिका में पांचवें नंबर पर पहुंच गई हैं। वहीं, पहले ही प्लेऑफ में अपना स्थान पक्का कर चुकी एटीके की 17 मैचों में यह चौथी हार है और वह 33 अंकों के साथ दूसरे नंबर पर है। चेन्नइयन के लिए राफेल क्रिवेल्लारो ने सातवें, आंद्रे शेम्बरी ने 40वें और नेरिजुस व्लास्किस ने इंजरी टाइम में गोल किया। एटीके के लिए रॉय कृष्णा ने 40वें मिनट में गोल किया। मेहमान चेन्नइयन ने करीब 37000 दर्शकों की मौजूदगी में चौंकाते हुए मैच की शुरुआत की और सातवें मिनट में ही क्रिवेल्लारो के बेहतरीन गोल की मदद से अपना खाता खोल लिया। इस गोल में अली साबिया का भी असिस्ट रहा। पहले आठ मैचों में एक भी गोल नहीं करने वाले राफेल का सीजन का यह सातवां गोल है।
चेन्नइयन ने इसके बाद 18वें मिनट में शेम्बरी ने हेडर के जरिए बॉल को नेट में डालकर चेन्नइयन की बढ़त को दोगुना कर दिया था कि तभी रेफरी ने इसे ऑफसाइड करार दे दिया। मैच की शुरुआत से ही पिछड़ रही एटीके को 25वें मिनट में भी एक झटका लगा जब आईएसएल में अपना 50वां मैच खेल रहे अनस एडाथोडिका चोटिल हो गए। अनस को स्ट्रेचर पर मैदान से बाहर ले जाना पड़ा और उनकी जगह माइकल सूसाइराज ने ली। मैच के 40वें मिनट में एक के बाद एक लगातार दो गोल देखने को मिले। पहले चेन्नइयन ने शेम्बरी के हेडर के जरिए किए गोल से अपनी बढ़त को दोगुना कर लिया। चेन्नइयन के दूसरे गोल में अनिरुद्ध थापा का भी असिस्ट रहा। लेकिन एटीके ने भी 40वें मिनट में ही वापसी की और कृष्णा के गोल की मदद से मैच में अपना खाता खोल लिया। कृष्णा का सीजन का यह 14वां गोल है और अब वह टॉप स्कोररों की सूची में फिर से नंबर-1 स्थान पर पहुंच गए हैं। कृष्णा के गोल के बावजूद चेन्नइयन ने हाफ टाइम तक 2-1 की अपनी बढ़त को कायम रखा। वहीं, एटीके को घर में इस सीजन में पहली बार हाफ टाइम तक पिछडऩा पड़ा। दूसरे हाफ के शुरू होने के बाद 49वें मिनट में चेन्नइयन मैच में तीसरा गोल दागने से महरूम रह गई। 66वें मिनट तक दोनों ही टीमें 50-50 प्रतिशत बॉल पजेशन के साथ खेल रही थी, लेकिन चेन्नइयन अभी भी गोल के लिहाज से आगे थी। चेन्नइयन ने इसके बाद 69वें मिनट में शेम्बरी की जगह फिर्तेलेस्कु को जबकि एटीके ने 73वें मिनट में जयेश राणे की जगह रेगिन माइकल को मैदान पर उतारा। आईएसएल में 75 मिनट बाद अब तक आठ गोल दागने वाली एटीके इस मैच में भी अपने उसी रिकॉर्ड को दोहराने के प्रयास में लगी हुई थी।
मेजबान एटीके ने कृष्णा के हेडर के दम पर 85वें मिनट में बॉल को नेट में पहुंचा भी दिया, लेकिन तभी रेफरी ने इस गोल को ऑफसाइड करार दे दिया। रेफरी के इस फैसले के कारण एटीके को एक गोल से पीछे रहते हुए इंजरी टाइम में प्रवेश करना पड़ा। इंजरी टाइम में चार मिनट का अतिरिक्त टाइम जोड़ा गया, जहां चेन्नइयन ने अपने स्टार खिलाड़ी और टॉप स्कोरर व्लास्किस के गोल की अपनी बढ़त को 3-1 से कर दिया और इसी स्कोर के साथ मुकाबला जीत लिया। व्लास्किस का सीजन का यह 13वां गोल है। 

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें

Top Ad 728x90