Your Ads Here

जमैका टेस्ट: कोहली, मयंक के अर्धशतकों के बीच होल्डर ने भारत को बड़े स्कोर से रोका


किंग्सटन । भारत ने यहां सबिना पार्क मैदान पर वेस्टइंडीज के खिलाफ खेले जा रहे दूसरे और आखिरी टेस्ट मैच के पहले दिन शुक्रवार का अंत पांच विकेट के नुकसान पर 264 रनों के साथ किया है। भारत की तरफ से जहां कप्तान विराट कोहली ने 76 और मयंक अग्रवाल ने 55 रन बनाए वहीं विंडीज के कप्तान जेसन होल्डर ने तीन विकेट लेकर यह सुनिश्चित किया कि भारत पहले ही दिन बड़ा स्कोर न करे। मयंक और कोहली दोनों के विकेट होल्डर ने लिए। एक तरह से पहला दिन दोनों टीमों के लिए मिला जुला रहा।
स्टम्पस तक हनुमा विहारी 42 और ऋषभ पंत 27 रन बनाकर खेल रहे हैं।
होल्डर ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया। होल्डर ने अपनी एक बेहतरीन स्विंग करती गेंद पर लोकेश राहुल (13) को स्लिप पर पदार्पण कर रहे रखीम कोर्नवॉल के हाथों कैच कराया। कोर्नवॉल ने चेतेश्वर पुजारा (6) को आउट कर भारत को 46 के कुल स्कोर पर दूसरा झटका दिया।
इसके बाद कोहली और मयंक ने पहले सत्र में भारत को तीसरा झटका नहीं लगने दिया। कोहली को शुरुआत में विकेट पर पैर जमाने में परेशानी हुई। कोर्नवॉल ने उन्हें काफी परेशान भी किया वहीं बाकी के गेंदबाजों ने इन दोनों को ज्यादा रन भी नहीं बनाने दिए। इन दोनों ने तीसरे विकेट के लिए 69 रनों की साझेदारी की। मयंक ने अपना तीसरा अर्धशतक दिन के दूसरे सत्र में पूरा किया लेकिन वह इसे एक बड़ी पारी में तब्दील नहीं कर पाए। होल्डर ने कोर्नवॉल के हाथों मंयक को कैच करा उनकी 127 गेंदों की पारी का अंत किया। मयंक की पारी में सात चौके शामिल रहे।
दूसरे सत्र में भारत ने सिर्फ मयंक का विकेट ही खोया। अब कोहली अपनी लय में आ चुके थे और गेंद को अच्छी तरह बल्ले पर ले रहे थे। दूसरे सत्र में उन्होंने भी अपने पचास रन पूरे किए।
कोहली के रहते उम्मीद थी कि भारत पहले दिन ही बड़ा स्कोर खड़ा करेगा, लेकिन होल्डर ने दिन के तीसरे सत्र में कोहली को विकेटकीपर जाहमर हेमिल्टन के हाथों कैच करा उन्हें पवेलियन भेज दिया। कोहली ने अपनी पारी में 163 गेंदों का सामना कर 10 चौके मारे। कोहली से पहले उप-कप्तान अंजिक्य राहणे (24) 164 के कुल स्कोर पर केमार रोच का शिकार हो गए थे। कोहली का विकेट 202 के स्कोर पर गिरा। कोहली ने रहाणे के साथ 49 और विहारी के साथ 38 रनों की साझेदारी की।
विहारी ने पंत के साथ मिलकर अभी तक 62 रन जोड़ लिए हैं। विहारी ने अभी तक 80 गेंदों का सामना कर आठ चौके मारे हैं जबकि पंत अभी तक 64 गेंद खेल चुके हैं और दो चौकों के अलावा एक छक्का मार चुके हैं।  

No comments

Powered by Blogger.